राजस्थान में ‘कोरोना’ जैसा वायरस, बच्चे ज्यादा शिकार, देश में अब तक 6 की मौत

0
25

जयपुर। महामारी कोरोना वायरस के बाद H3N2 वायरस तेजी से फैल रहा है। राजस्थान में इस वायरस का प्रकोप देखने को मिल रहा है। इस वायरस की चपेट में सबसे ज्यादा बच्चे आ रहे हैं, उन्हें ठीक होने में 10 से 12 दिन तक लग रहे हैं। 7% बच्चों को तो कंडीशन बिगड़ने पर ICU तक में भर्ती करना पड़ रहा है। वायरस फ्लू श्रेणी का है, लेकिन इसका असर कोरोना की तरह देखा जा रहा है। यानी बुखार के साथ फेफड़ों को नुकसान पहुंचा रहा है।

हर चौथा मरीज H3N2 की चपेट में
एक्सपट्‌र्स ने बताया कि ओपीडी में आने वाला हर तीसरा या चौथा मरीज H3N2 या इससे मिलते-जुलते वायरस की चपेट में आ रहा है। मरीज के तेज बुखार के बाद लंबे समय तक खांसी चलने की शिकायत ज्यादा आ रही है।

7 दिन में भी ठीक नहीं हो रहा बुखार
ये वायरस मौसम में बदलाव के साथ एक्टिव होते हैं और तेजी से स्प्रैड हो रहे हैं। इसमें बुखार सामान्यत: 3-4 दिन रहता है, लेकिन कुछ केस में 6-7 दिन में भी बुखार ठीक नहीं हो रहा। हालांकि राहत की बात ये कि जितने भी मरीज इन वायरस की चपेट में आ रहे हैं, उसमें 95 फीसदी केस हल्के लक्षण वाले यानी सीवियर नहीं हैं। हालांकि कुछ मरीजों में निमोनिया जैसी कंडीशन बन रही है।

देश में अब तक 6 की हुई मौत
H3N2 वायरस (इन्फ्लूएंजा वायरस) ने पैर पसारने शुरू कर दिए हैं। H3N2 वायरस के कारण होने वाले इन्फ्लूएंजा से अब तक छह लोगों की मौत हो गई है। कर्नाटक के हासन जिले में एक मौत दर्ज की गई। पंजाब और हरियाणा में भी मामले सामने आए।