दुष्कर्म केस में पूर्व कांग्रेस मंत्री नागर हुए बरी, प्रदेश के आधा दर्जन नेता और अधिकारी फंसे हैं दुष्कर्म मामालों में

0
1148

प्रदेश के आधा दर्जन से अधिक नेताओं पर दुराचार अथवा इससे संबंधित आपराधिक मामले चल रहे हैं या सजा हो चुकी है। कई आईएएस, आईपीएस और आरएएस अफसरों पर भी ऐसे ही मामले चल रहे हैं। कुछ में जांच जारी है तो कुछ में फैसला आना बाकी है।

तीन साल बाद मिला संदेह का लाभ, हुए बरी
करीब साढ़े तीन साल बाद पूर्व मंत्री बाबूलाल नागर दुष्कर्म मामले में बरी हो गए। सोमवार को जयपुर जिला एवं सेशन न्यायालय संख्या-2 के जज प्रहलाद राय शर्मा ने संदेह का लाभ देते हुए उन्हें बरी करने के आदेश दिए। कोर्ट ने कहा कि पीड़िता की गवाही पूरी तरह अविश्वसनीय है। ऐसे में उसकी गवाही के आधार पर ही अभियोजन का मामला पूरी तरह संदेहजनक हो जाता है। मामले में स्वतंत्र वैज्ञानिक साक्ष्य से आरोपी को दोषी ठहराया जाना उचित नहीं है। ट्रायल के दौरान कोर्ट के सामने ऐसे कई तथ्य आए जिन्होंने अभियोजन की पूरी कहानी को ही संदेहास्पद बना दिया। ऐसे में आरोपी को संदेह का लाभ देते हुए दोषमुक्त किया जाता है।

सितंबर 2013 में इस्तगासे से दर्ज हुआ था नागर के खिलाफ मुकदमा

सितंबर 2013 में अजमेर रोड निवासी महिला ने इस्तगासे से सोढ़ाला थाने में पूर्व मंत्री बाबूलाल नागर के खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। महिला का आरोप था कि नागर ने उसे फोन करके डेयरी का बूथ दिलाने नौकरी दिलाने का झांसा देकर सिविल लाइन स्थित बंगले पर बुलाया। जहां जबरन दुष्कर्म किया। महिला बाबूलाल नागर को चार-पांच साल से जानती थी। मामले की जांच पहले सीआईडी सीबी और फिर सीबीआई ने की थी। जांच के बाद सीबीआई ने अक्टूबर 2013 में बाबूलाल नागर को दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था।

इन नेताओं पर अभी भी हैं दुष्कर्म जैसे केस

पूर्वमंत्री महिपाल, कांग्रेस नेता मलखान परसराम : भंवरीदेवी अपहरण, हत्या मामले में पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा, पूर्व कांग्रेसी विधायक मलखान, उनके भाई कांग्रेस नेता परसराम दिसंबर, 2011 से न्यायिक अभिरक्षा में हैं। कोर्ट में मामले की ट्रायल चल रही है।

पूर्वविधायक उदयलाल आंजना : सितंबर,2013 में नागौर में उदयलाल आंजना के खिलाफ एक महिला से दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ था। महिला ने वर्ष 1984 से यौन शोषण दुष्कर्म का आरोप लगाया।

विधायककिरोड़ी लाल मीना : डॉ.किरोड़ी सहित 12 लोगों पर विवाहिता ने सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाया है। जांच जारी है। करौलीके कसारा गांव की 21 वर्षीय पीड़िता ने इस संबंध में करौली महिला पुलिस थाने में नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है। सीआईडी-सीबी मामले की जांच कर रही है।

राज्य सभा सांसद और कांग्रेस प्रवक्ता सिंघवी भी घिरे

राजस्थान से राज्यसभा सांसद एवं कांग्रेस के प्रवक्ता रहे अभिषेक मनु सिंघवी की सेक्स सीडी पर काफी हंगामा मचा। अप्रैल 2012 में सेक्स सीडी स्कैंडल में फंसने के बाद अभिषेक मनु सिंघवी को कांग्रेस पार्टी में अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था। हालांकि, अब वे फिर से कांग्रेस पार्टी की मुख्य धारा में लौट आए हैं।

आसाराम प्रकरण : बालिका से यौन उत्पीड़न के मामले में आरोपी कथावाचक आसाराम गत सितंबर, 2013 से न्यायिक अभिरक्षा में है। जोधपुर में मामला दर्ज करवाया गया था। अभियोजन पक्ष के बाद बचाव पक्ष ने 59 गवाहों की सूची कोर्ट में दी है। उनकी गवाही चल रही है।

प्रेम-प्रसंग में हत्या, बसपा विधायक रहे कुशवाह भुगत रहे आजीवन कारावास

धौलपुर के बहुचर्चित नरेश कुशवाह हत्याकांड में धौलपुर से बसपा विधायक बीएल कुशवाह को कोर्ट आजीवन कारावास की सजा सुना चुकी है। मामला प्रेम-प्रसंग के चलते हत्या से जुड़ा था। नरेश की वर्ष 2013 में हत्या कर दी गई थी। सीआईडी-सीबी ने मामले की जांच की थी। कोर्ट ने कुशवाह को आपराधिक षडयंत्र एवं हत्या का दोषी मानते हुए सजा सुनाई। सजा सुनाए जाने के बाद विधानसभा अध्यक्ष ने कुशवाह की विधानसभा सदस्यता बर्खास्त कर चुके हैं। वहां उपचुनाव होना है।

मुझे पता था न्याय नहीं मिलेगा, हाईकोर्ट जाऊंगी

उधर बाबूलाल नागर को बरी होने की खबर मिलते ही पीड़िता ने कहा हैं कि मैंने न्याय नहीं मिलने की आशंका जताते हुए केस दूसरे कोर्ट में स्थानांतरित करने की एप्लीकेशन लगाई थी। केस स्थानांतरित नहीं किया गया। ऐसे में मुझे पहले से भरोसा हो गया था कि आरोपी बरी होगा। मैं हाईकोर्ट में अपील करूंगी |

 

RESPONSES

Please enter your comment!
Please enter your name here