Improvements in Education System in Rajasthan

    0
    789

    हमारे राजस्थान में शिक्षा के क्षेत्र में जो नव निर्माण और सफल कार्य वसुंधरा जी ने किये है वैसे कांग्रेस ने अपने कार्यकाल में तो कभी भी नहीं किये। वसुंधरा जी ने ढाई वर्षो में ही शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान को अग्रणी बना दिया है और कांग्रेस सरकार ने राजस्थान पर 60 साल राज किया और राजस्थान को शिक्षा के नाम पर लूटा। हमारा राजस्थान इन ढाई सालों में जिस तेजी से शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ा है वह बेमिसाल है। मित्रों अब वह दिन दूर नहीं जब राजस्थान शिक्षा के क्षेत्र में देश में प्रथम स्थान पर होगा।

    यहाँ कुछ तथ्य दिए गए हैं जो इसे साबित करते हैं:

    • राजस्थान के 2 शिक्षकों को शिक्षा में सुचना प्रौद्योगिकी को प्रयोग में लेने के लिए राष्ट्पति द्वारा सम्मानित किया गया।
      – 9 हज़ार 895 आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालयों में कक्षा 1 से कक्षा 12 तक की पढाई एक ही स्कूल में कराइ जाती है।
    • 9 हज़ार 610 उत्कृष्ठ विद्यालयों में कक्षा 1 से कक्षा 12 तक की पढाई एक ही स्कूल में कराइ जाती है।
    • शिक्षा के क्षेत्र में वसुंधरा जी के उत्कृष्ठ प्रयासों से सरकारी स्कूलों में 11 लाख छात्र और बढे तथा कुछ छात्र तो private स्कूल छोड़ कर सरकारी स्कूल join कर रहे हैं।
    • कक्षा 10 से 11वीं में प्रवेश ले वाले विद्यार्थियों की संख्या 49 प्रतिशत से बढ़कर 66% हो गयी है।
    • अकेले कक्षा 11 में 1 लाख अतिरिक्त छात्राओं ने admission लिया।
    • गांवों में शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़ी पंचयात समितियों में स्वामी विवेकानंद राजकीय मॉडल स्कूलों की स्थापना की गई।
    • CBSE pattern पर संचालित इन स्कूलों में अच्छे स्तर की प्र्योयोगशालाएं, classrooms और खेल के मैदान हैं।
    • छात्रों को English medium की भी बेहतर शिक्षा मिल रही है।
    • ई-ज्ञान पोर्टल पर पढ़ाई से सम्बन्ध्ति हर तरह की शिक्षा सुविधा प्रदान की जा रही है।
    • Smart Classroom और Digital Learning Solution Room की स्थापना की गई है। – 7 हज़ार विद्यालयों में ITC लैब की स्थापना की गई है।
    • 2 हज़ार स्कूलों में Maths, Science और English विषयों के लिए Satellite Classes चलाई जा रहीं हैं ताकि बच्चों में ज्ञान बढे और वे IT industry से भी परिचित हो सकें।
    • शारदे बालिका छात्रावासों द्वारा छात्राओं को Hostel की सुविधा दी जा रही है जिसमे 9 हज़ार छात्राओं को लाभ मिल चूका है। – 6 से 12वीं class की 28 हज़ार छात्राओं को नि:शुल्क आवास, शिक्षा, खाना तथा दैनिक सामग्री उपलब्ध कराइ जा रही है।
    • बालिकाओं के लिए अपनी बेटी, हमारी बेटियां एवं राजश्री जैसी योजनाओ में राशि की सहायता दी जा रही है।
    • Transport Voucher का भुगतान छात्राओं के खातों में पहले ही किया जा रहा है। – Scholarship को Online कर दिया गया ताकि scholarship की राशि सीधे खाते में जमा हो सके। – Principals को नए पद दिए गए और शिक्षकों का promotion किया गया।

    इन सब योजनायों के बेहतरीन परिणामों से ही आज शिक्षकों के खाली पद 60% से घटकर 25% रह गए हैं तथा 10वीं के परिणाम 66% से 73% और 12वीं के परिणाम 78% से 88% तक बढ़ गए हैं।