आरएसएस चिंतन शिविर: मुख्यमंत्री के कामकाज से संघ परिवार खुश, मिशन-2018 पर बनी रणनीति

    0
    983
    CM Vasundhara Raje Ajmer Chintan Shivir

    आरएसएस के चिंतन शिविर में शामिल होने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे अजमेर पहुंची। यहां कई मंत्री, नेता उनकी अगवानी करने हेलिपैड़ पर पहुंचे। चिंतन शिविर के बाद आयोजन स्थल पर ही जिला कलेक्टर गौरव गोयल ने शहर में चल रहे विकास कार्यों की जानकारी दी।

    अजमेर पुलिस का एप किया लॉंच

    इस मौके पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अजमेर पुलिस एप को भी लॉंच किया। अजमेर आईजी नितिन दीप बल्लगन ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को अजमेर पुलिस एप को लाइव डेमो देकर इसके फ़िचर्स के बारे में जानकारी दी। मुख्यमंत्री राजे ने अजमेर पुलिस को सलाह दी कि इस एप में नो पार्किंग जोन व ब्लड बैंक की भी जानकारी हो। इसके अलावा सीनियर सिटीजन के लिए एप में स्पेशल फीचर हो ताकि वारदात के समय युजर पुलिस को सही समय पर जानकारी दे सके।

    सरकार के रिपोर्ट कार्ड पर संघ खुश

    अजमेर में आरएसएस के चिंतन शिविर में सीएम वसुंधरा राजे ने अपनी सरकार के काम कार्ड का रिपोर्ट कार्ड पेश किया। उन्होने बताया की सरकार के काम काज से संघ परिवार में खुशी हैं। शिविर में सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की प्रशंसा करते हुए जोर दिया कि सभी योजनाओं का लाभ जरुरतमंदों को मिले।

    मिशन-2018 पर बनी रणनीति

    चिंतन शिविर में संघ के सरकार्यवाहक भैयाजी जोशी एवं मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के बीच मिशन 2018 की रणनीतियों पर भी चर्चा हुई। शिविर में राज्य सरकार के महत्वपूर्ण कार्यों व आम आजमी से जुड़ी योजनाओं को काफी सराहा गया।

    स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में शहर में (अजमेर स्मार्ट सिटी लिमिटेड़) एएससीएल द्वारा 722.61 करोड़ की लागत के कामों की जल्दी ही डीपीआर तैयार कर उन पर काम शुरु कर दिया जाएगा। इससे पहले 86.08 करोड़ की लागत के काम स्मार्ट सिटी की दूसरी वर्षगांठ 25 जून तक पूरे हो जाएंगे। इनमें ह्रदय व अमृत योजना के कार्य भी शामिल हैं। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को अजमेर यात्रा के दौरान मंगलवार को इस संबंध में जानकारी दी गई। मुख्यमंत्री वसुधरा राजे ने सभी कार्यों को योजनाबद्ध प्रभावी तरीके से समय पर पूरा करने के निर्देश दिए हैं।

    जून के बाद शुरू होंगे 722.61 करोड़ के लागत के काम

    शहर में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट की सही शुरुआत 25 जून के बाद ही होनी हैं। इससे पहले शहर में प्रस्तावित इन कार्यों की विस्तृत प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार कर निविदा संबंधी कार्रवाई पूरी कर ली जाएगी। इनमें 20 करोड़ की लागत से सार्वजनिक कला एवं संरचना के काम, 5-5 करोड़ की लागत से सूचना केंद्र में ऑडिटोरियम एवं पर्यटक सूचना केंद्र, 30 करोड़ के मिट्टी से संबंधित कार्य, 8.75 करोड़ से पाथ वे निर्माण, 11 करोड़ की लागत से म्यूजिकल फाउंटेन व वाटर स्पोर्ट्स, 20 करोड़ की लागत से एम्यूजमेंट पार्ट,  जिसमें15 करोड़ की लागत से फव्वारे, पौधरोपण, जॉगिंग, साइकिल ट्रैक, बच्चों का मनोरंजन पार्क, 10 करोड़ की लागत से निजी व सार्वजनिक भवनों पर सोलर ऊर्जा सयंत्र, 11करोड़ की लागत से शहर में स्मार्ट मीटरिंग, म5.57 करोड़ की लागत के सीवरेज प्रोपर्टी चैंबर, 7.50 करोड़ की लागत से वेस्ट वाटर यूज, 9 करोड़ की लागत से घर-घर वेस्ट कलेक्शन, 250 करोड़ की लागत से आनासागर एस्केप चैनल को ढंक कर सडक निर्माण एवं विभिन्न सर्किल का निर्माण, 10 करोड़ की लागत से वैंडिंग जोन,10 करोड़ से दुकानों के सामने फुटपाथ निर्माण, 20 करोड़ की लागत से स्किल डवलपमेंट सेंटर, 100 करोड़ की लागत से मल्टी लेवल पार्किंग , 50 करोड़ की लागत से सीसीटीवी कैमरे, 5 करोड़ की लागत से शहर में आपात प्रबंधन के कार्य शामिल हैं।

    RESPONSES

    Please enter your comment!
    Please enter your name here